Hero Connect : क्या है ? कैसे काम करता है ? जानिये अहम जानकारियां !

  • Whatsapp
Hero Connect

Hero Connect : भारत में वाहन केवल दूरियां तय करते हैं,
आपके सफर में आपके साथ होते हैं परंतु इतने सक्षम नहीं होते की आपका हमसफ़र बन सके।
हमारे पास उस तरह के कनेक्टेड वाहन नहीं हैं जो किसी को यूरोप में देखने को मिलेंगे।

परंतु ऐसा कहना बिल्कुल गलत नहीं होगा कि आज के आधुनिक भारत में,
जहाँ हीरो कनेक्ट (Hero Connect) जैसी आधुनिक टेक्नोलॉजी काम शुरू कर चुकी है,
एक समय आएगा जब हमारी गाड़ियां भी आधुनिक होंगी।

यूरोपीय गाड़ियों की आधुनिक टेक्नोलॉजी के काफी करीब अगर आपको भारत में कोई ले जा सकता है तो वो है Hero Connect. ये अपने आप में एक क्रांति है।

जानिए, क्या है Hero Connect? | What is Hero Connect?

दरअसल ये एक आधुनिक सॉफ्टवेयर है जो आपके वाहन को कनेक्ट रखता है कई तरह की जानकारियों से जो।
आपके सफर के लिए आवश्यक है।
अगर आप Hero Connect की फीचर का मज़ा लेना चाहते हैं तो निम्न गाड़ियों में ये उपलब्ध है।

  1. Hero Xtreme 160R: ₹107,490 – ₹112,340
  2. Xpulse 200: ₹118,230
  3. Hero Destini 125: ₹67,990 – ₹73,390
  4. Pleasure Plus: ₹58,900 – ₹61,300
  5. Hero Pleasure Plus Platinum: ₹64,100

4,999 में है कमाल:

हीरो कनेक्ट सिस्टम, जिसमें एक अंदरूनी सिम के साथ टेलीमैटिक्स हार्डवेयर शामिल है।
इसमें आपके द्वारा चुने गए हीरो टू-व्हीलर की कीमत पर ₹4,999 की अतिरिक्त कीमत पर ये उपलब्ध है।

ये एक ऐसा आधुनिक कनेक्टिविटी सिस्टम है जो सवारों के लिए बहुत सारी सुविधाएँ प्रदान करता है।
यह निम्नलिखित सुविधाओं की पेशकश करते हुए ऐप और डिवाइस के बीच संचार को सक्षम करने के लिए सेलुलर नेटवर्क का उपयोग करता है:

Topple Alert

आपकी सुरक्षा के लिए ये फीचर बहुत अहम है।
हालांकि आपके सदैव अच्छे और सुखद सफर की हम कामना करते हैं।
परंतु अगर कोई हादसा या दुर्घटना होजाये तो ये फीचर जीवनदाता साबित हो सकता है।

ये आपके वाहन के गिरने की स्थिति में आपके पंजीकृत मोबाइल नंबर
और आपातकालीन संपर्कों पर एक ऐप नोटिफिकेशन और एसएमएस भेजता है।
किसी भी बड़ी दुर्घटना होने पर खुद ही दिए गए नम्बर पर उसकी जानकारी भेज दी जाएगी।

Trip Analysis

ये फ़ीचर आपके बहुत काम आएगा क्योंकि ये बहुत उपयोगी है।
ट्रिप एनालिसिस आपके सफर या ट्रिप का अध्ययन करता है तथा उसके बारे में कई जानकारियां देता है।

मुख्य तौर पर समझें तो ये आपके 6 महीने तक के सफर की डिटेल्स आपको बताने सक्षम है।
इसमें ट्रिप की दूरियां, ट्रिप में लिए गए रास्ते की डिटेल्स के साथ कितना समय लगा, सारी जानकारियां आपको मिलेंगी।
यू कहें आपको आपके 6 महीने में बाइक की सारी ट्रिप के रास्ते, दूरी, समय की व्याख्या मिल जाएगी।

Driving Score

यह एक काफी आधुनिक और कम्प्यूटरीकृत फीचर है,
जिसकी ज़रूरत आज के राइडर को बहुत ज़्यादा है।
ये फीचर विभिन्न ड्राइविंग व्यवहार पैटर्न के आधार पर आपके स्कोर की गणना करता है
और आपको बताता है कि आपकी बाइक कितनी अच्छी तरह चलाई जा रही है।

इससे कभी भी आप बेखबर नहीं हो सकते हैं, या आपके कोई चाहने वाले जो बाइक चला रहे हैं।
इस फीचर के बदौलत बाइक चलाने वाले लोग सदैव सतर्क कर दिए जाएंगे अगर उनकी स्पीड ज़रूरत से ज़्यादा है।

दिलचस्प ये है कि अगर आप ज़्यादा और खतरनाक स्पीड में चलाएंगे तो आपके लिए इस फीचर में Hero Connect (हीरो कनेक्ट) आपको बताएगा कि ऐसे गाड़ी चलाना आपको क्या बनाता है।

Speed Alert

Speed Limit

जब भी आपका वाहन आपके द्वारा निर्धारित गति सीमा को पार करता है तो एक ऐप नोटिफिकेशन भेजता है।
इस फीचर की खास बात ये है कि आप अपने इलाके और ड्राइविंग और बाइक की कैपेसिटी से वाकिफ हैं।
अब तो बड़ी सतर्कता और सावधानी से स्पीड की लिमिट सेट करेंगे।

अगर आपका छोटा भाई, या दोस्त बाइक लेता है और औकात से अधिक स्पीड करता है तो तुरंत आपको नोटिफिकेशन आजायेगा।

ये कहें कि इससे अब आपकी बाइक के इस्तेमाल का तरीका कोई आपसे छुपा नहीं पायेगा।
अगर कभी कोई दुर्घटना हो तो आपकी बाइक चलाने वाला कुछ छुपा नहीं सकता है आपसे।

Live Vehicle Tracking

इस फ़ीचर का काम बेहद आधुनिक है जो यूरोप के देशों की नकल करने की कोशिश है।
इसकी उपयोगिता असीम है।

ये वास्तविक समय में आपके वाहन को ट्रैक करता है और यात्रा के दौरान सटीक ड्राइविंग पथ प्रदान करता है और वर्तमान ड्राइविंग गति को साझा करता है।

अब इसके कारण आप एक स्मार्ट राइडर बन सकते हैं,
क्योंकि अब आपको फिकर करने की ज़रूरत नहीं कि कोनसा रास्ता बेहतर है।

अब रास्ते की सम्पूर्ण जानकारी आपको Hero Connect का ये फीचर देगा।

Tow Away Alert

ये फीचर तो आजके समय की सेफ्टी के लिए बेहद आवश्यक है।
आपको सतर्क करने के लिए Hero Connect की ये पहल सराहनीय है।

इसके कारण अब आपके साथ किसी भी तरह की अनहोनी होने की संभावना में भारी कमी आएगी।

ये फ़ीचर यदि किसी अनाधिकृत वाहन के आपके पास होने का पता चलता है,
तो आपके पंजीकृत मोबाइल नंबर पर एक ऐप नोटिफिकेशन और एसएमएस भेजता है।

अब ये तो सभी जानते हैं कि गलत कार्य करने वाले असामाजिक तत्व लगभग ऐसी गाड़ी चलाते हैं जो अनाधिकृत होती है।
और जब ऐसी गाड़ियां आपके आसपास हो तो आपको Hero Connect सतर्क कर देगा।

Geo-fence Alert

ये फीचर आज के युवाओं के बेहद कारगर है।
क्योंकि अब आपकी बाइक आपका खयाल रखने में सक्षम है।

इससे जब भी वाहन आपकी रुचि के निर्धारित स्थानों या पूर्व-निर्धारित भौगोलिक क्षेत्रों से निकलता है या आता है,
तो एक ऐप सूचना आपको प्राप्त होता है।

अब आप समझ सकते हैं कि आपकी बाइक अब आपका साथी बन सकता है
जिसे आपकी रुचि या पसंद की जगहों का ख्याल रहेगा।

जैसे ही आप अपने पसंद की कोई जगह, रेस्टोरेंट के बगल से अनजाने में आगे निकलने वाले रहेंगे,
आपको सतर्क कर दिया जाएगा।

Hero Locate

ये आपको अंतिम पार्किंग स्थान खोजने में मदद करता है और Google Maps (A Unit Of Google Technologies)का उपयोग करके आपको अंतिम स्थान तक पहुँचाने के लिए अगुवाई करता है।

अपने देश की जो सबसे बड़ी समस्या है वो है पार्किंग। अब Hero Connect की मदद से आपको बताया जाएगा कि आपने पिछली बार किसी भी एरिया में पार्क कहा किया था।

अब इससे ये फायदा होगा कि आप एक मार्केट की पार्किंग में लगाये,
अगली बार भूल गए कि कहाँ है पार्किंग तो आपको बताया जाएगा।

किसी भी एरिया में आप हों, आपको पार्किंग का लोकेशन बता देगा,
जिससे आप उसी हिसाब से रास्ते लेंगे।

हम Hero Connect के बारे में जानकर ये कह सकते हैं कि ये एक कमाल की आधुनिक शुरुआत है।
और इससे भारत के स्मार्ट ड्राइविंग अनुभव में क्रांति आएगी।

हीरो मोटोकॉर्प: भारत की अग्रणी टू व्हीलर कंपनी

हीरो मोटोकॉर्प भारत की अग्रणी दोपहिया कंपनी है,
जो ग्राहकों को दोपहिया वाहनों की एक उत्कृष्ट श्रृंखला प्रदान करती रही है जो स्टाइल और आराम दोनों सुनिश्चित करती है।
हीरो मोटोकॉर्प की कहानी को उसके दोपहिया वाहनों द्वारा संचालित एक मोबाइल
और सशक्त भारत की दृष्टि से देखा जा सकता है। आज हीरो मोटोकॉर्प ने स्टाइल,
परफॉर्मेंस और टेक्नोलॉजी में बेंचमार्क स्थापित करके न केवल भारत में बल्कि विश्व स्तर पर सर्वश्रेष्ठ टू व्हीलर कंपनी बनने का अपना मिशन बना लिया है।

क्या बनाता हीरो मोटोकॉर्प को भारत में सबसे अच्छी मोटरसाइकिल कंपनी है?

हीरो मोटोकॉर्प का दर्शन ‘बी द फ्यूचर ऑफ मोबिलिटी’ पर आधारित है
और यह न केवल उसके उत्पादों और सेवाओं तक फैला हुआ है
बल्कि हीरो मोटोकॉर्प के संचालन में भी परिलक्षित होता है।
भारत में अग्रणी मोटरसाइकिल कंपनियों में से एक के रूप में,
हीरो मोटोकॉर्प जुनून, अखंडता, सम्मान, साहस और जिम्मेदार होने के मूल मूल्यों का सख्ती से पालन करता है।

हीरो मोटोकॉर्प की आठ वैश्विक स्तर पर बेंचमार्क विनिर्माण सुविधाएं हैं,
जिनमें भारत में छह (धारूहेड़ा, चित्तूर, गुरुग्राम, हरिद्वार, नीमराना, गुजरात) और कोलंबिया
बांग्लादेश में एक-एक शामिल हैं। 2001 में, कंपनी ने भारत में सबसे बड़ी
और सबसे अच्छी बाइक निर्माता होने की सबसे अधिक मांग वाली मान्यता प्राप्त की
और एक कैलेंडर वर्ष में यूनिट वॉल्यूम बिक्री के मामले में ‘विश्व नंबर 1’ दोपहिया कंपनी भी हासिल की।
हीरो मोटोकॉर्प लिमिटेड आज तक इस स्थिति को बरकरार रखे हुए है।

भारत में एक बिजनेस लीडर और एक प्रमुख मोटरसाइकिल कंपनी होने के नाते,
हीरो मोटोकॉर्प अपने कारखानों के माध्यम से ‘हैप्पीनेस मैन्युफैक्चरिंग’ में विश्वास करता है,
जहां पर्यावरण पर प्रभाव को कम करने और एक स्वस्थ पारिस्थितिकी तंत्र विकसित करने के लिए मनुष्य,
मशीन और प्रकृति के बीच पूर्ण सामंजस्य है।
अपने ‘वी केयर’ सीएसआर कार्यक्रम के तहत हीरो मोटोकॉर्प के चार प्रमुख कार्यक्रम हैं- हैप्पी अर्थ,
राइड सेफ इंडिया, हमारी परी और एजुकेट टू एम्पावर।
इन गतिविधियों से हीरो मोटोकॉर्प को देश की सर्वश्रेष्ठ दोपहिया कंपनी के रूप में अपनी स्थिति मजबूत करने में मदद मिलती है।

Hero Connect History

हीरो होंडा ने 1984 में भारत की हीरो साइकिल्स (जिसे कभी-कभी हीरो ग्रुप कहा जाता है,
स्विट्जरलैंड की हीरो ग्रुप फूड कंपनी के साथ भ्रमित नहीं होना चाहिए)
और जापान की होंडा के बीच एक संयुक्त उद्यम के रूप में अपना परिचालन शुरू किया।
जून 2012 में, हीरो मोटोकॉर्प ने अपने मूल हीरो इन्वेस्टमेंट प्राइवेट लिमिटेड की निवेश शाखा के विलय के प्रस्ताव को मंजूरी दी। ऑटोमेकर के साथ लिमिटेड।
यह फैसला हीरो होंडा से अलग होने के 18 महीने बाद आया है।

“हीरो” मुंजाल भाइयों द्वारा अपनी प्रमुख कंपनी, हीरो साइकिल्स लिमिटेड के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला ब्रांड नाम है।
हीरो समूह और होंडा मोटर कंपनी के बीच एक संयुक्त उद्यम की स्थापना 1984 में धारूहेड़ा,
भारत में हीरो होंडा मोटर्स लिमिटेड के रूप में की गई थी।
मुंजाल परिवार और होंडा समूह दोनों के पास कंपनी में 26% हिस्सेदारी थी।

1980 के दशक के दौरान, कंपनी ने ऐसी मोटरसाइकिलें पेश कीं जो भारत में अपनी ईंधन अर्थव्यवस्था
और कम लागत के लिए लोकप्रिय थीं।
एक लोकप्रिय विज्ञापन अभियान ‘फिल इट – शट इट – फॉरगेट इट’ के नारे पर आधारित,
जिसने मोटरसाइकिल की ईंधन दक्षता पर जोर दिया, कंपनी को स्थापना के बाद से दो अंकों की गति से बढ़ने में मदद मिली।
2001 में, कंपनी भारत और विश्व स्तर पर दूसरी सबसे बड़ी दोपहिया निर्माण कंपनी बन गई।
यह आज तक वैश्विक उद्योग नेतृत्व को बनाए रखता है।
लगभग 26 वर्षों (1984-2010) के लिए हीरो मोटोकॉर्प (पहले हीरो होंडा) की बाइक में तकनीक जापानी समकक्ष होंडा से आई है।

पहले हौंडा के साथ हुआ करती थी हीरो

दिसंबर 2010 तक, हीरो होंडा समूह के निदेशक मंडल ने भारत के हीरो समूह और जापान के होंडा के बीच संयुक्त उद्यम को चरणबद्ध तरीके से समाप्त करने का निर्णय लिया था।
हीरो समूह संयुक्त उद्यम हीरो होंडा में होंडा की 26% हिस्सेदारी खरीदेगा।
संयुक्त उद्यम के तहत हीरो समूह अंतरराष्ट्रीय बाजारों (नेपाल, बांग्लादेश और श्रीलंका को छोड़कर) को निर्यात नहीं कर सका
और समाप्ति का मतलब यह होगा कि हीरो समूह अब निर्यात कर सकता है।
हीरो ग्रुप शुरू से ही अपनी बाइक्स में टेक्नोलॉजी के लिए अपने जापानी पार्टनर होंडा पर निर्भर रहा।

जापानी ऑटोमेकर ने मुंजाल परिवार को – जिसकी कंपनी में 26% हिस्सेदारी थी – अतिरिक्त 26% देकर ऑफ-मार्केट लेनदेन की एक श्रृंखला के माध्यम से संयुक्त उद्यम से बाहर निकल गया।
होंडा, केवल अपनी स्वतंत्र पूर्ण स्वामित्व वाली दोपहिया सहायक-होंडा मोटरसाइकिल एंड स्कूटर इंडिया (एचएमएसआई) पर ध्यान केंद्रित करना चाहती है,
हीरो होंडा से छूट पर बाहर निकली और ₹6,400 करोड़ (2019 में ₹120 बिलियन या यूएस $1.6 बिलियन के बराबर) प्राप्त किया। ) अपनी हिस्सेदारी के लिए।
16 दिसंबर 2010 को बाजार बंद होने के बाद स्टॉक की कीमत के अनुसार होंडा की हिस्सेदारी के मौजूदा मूल्य पर छूट 30% से 50% के बीच थी।

और

दोनों भागीदारों के बीच बढ़ते मतभेद धीरे-धीरे एक अड़चन के रूप में सामने आए।
होंडा की अनिच्छा से लेकर हीरो के साथ पूरी तरह से और स्वतंत्र रूप से प्रौद्योगिकी साझा करने के लिए (2014 में समाप्त होने वाले 10 साल के प्रौद्योगिकी गठजोड़ के बावजूद) और साथ ही भारतीय साझेदार की बेचैनी से लेकर विभिन्न मुद्दों पर विभाजन से पहले कुछ वर्षों से मतभेद चल रहे थे।
जापानी कंपनी को उच्च रॉयल्टी भुगतान पर। होंडा के लिए एक अन्य प्रमुख अड़चन हीरो होंडा (मुख्य रूप से मुंजाल परिवार द्वारा प्रबंधित) द्वारा कंपनी के स्पेयर पार्ट्स व्यवसाय को होंडा की नई पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी,
एचएमएसआई के साथ विलय करने से इनकार करना था।

व्यवस्था के अनुसार, यह दो स्टेप्स वाला सौदा था।
पहले भाग में, बृजमोहन लाल मुंजाल समूह के नेतृत्व में मुंजाल परिवार ने होंडा की पूरी हिस्सेदारी खरीदने के लिए एक विदेशी-निगमित विशेष प्रयोजन वाहन (एसपीवी) का गठन किया, जिसे ब्रिज लोन द्वारा समर्थित किया गया था।
इस एसपीवी को अंततः निजी इक्विटी भागीदारी के लिए खोल दिया गया था,
और इस दौड़ में शामिल लोगों में वारबर्ग पिंकस, कोहलबर्ग क्रैविस रॉबर्ट्स (केकेआर), टीपीजी,
बैन कैपिटल और कार्लाइल ग्रुप शामिल थे।

पुरस्कार और मान्यता

2006 फोर्ब्स की200  विश्व की सबसे सम्मानित कंपनियों की सूची में हीरो होंडा मोटर्स का स्थान 108 था।
ट्रस्ट रिसर्च एडवाइजरी द्वारा प्रकाशित ब्रांड ट्रस्ट रिपोर्ट ने हीरो होंडा को भारत के सबसे भरोसेमंद ब्रांडों में 7वें स्थान पर रखा है।
इसे ऑटो इंडिया बेस्ट ब्रांड अवार्ड्स 2012 में टू व्हीलर श्रेणी में ‘बेस्ट वैल्यू फॉर मनी बाइक मेकर’ और ‘बेस्ट एडवरटाइजिंग’ प्राप्त हुआ।

FAQs :

Hero Connect Price?

Rs. 4,999

Also Read:

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

3 comments