Litti Chokha : Recipe | Narendra Modi | Bihar Masti

  • Whatsapp
Litti Chokha

Litti Chokha (लिट्टी चोखा) बिहार के सर्वप्रसिद्ध व्यंजनों में से एक है।
अगर आप इसके अच्छी क्वालिटी का सेवन करते हैं तो आपको काफी कमाल का अनुभव देगा।

इस रिपोर्ट में आप पढ़ेंगे:

  1. लिट्टी चोखा का सैकड़ों सालों के इतिहास | History of hundred years of Litti Chokha
  2. क्या खास है बिहारी Litti Chokha में?
  3. Litti Chokha की प्रसिद्धता
  4. लिट्टी चोखा की कुछ अनोखी बातें
  5. Litti Chokha के स्वास्थ्य संबंधित फायदे
  6. लिट्टी चोखा बनाने का बिहारी तरीका | Litti Chokha Bihari Recipe
  7. प्रधानमंत्री मोदी ने भी खाया लिट्टी चोखा
  8. आमिर खान ने भी पटना में लिट्टी चोखा खाया । Aamir Khan ate Litti Chokha in Patna
  9. बिहार के अन्य 26 प्रसिद्ध व्यंजन | Other 26 Bihari Famous Food

बिहार के साथ-साथ यह झारखंड और पूर्वी उत्तर प्रदेश के कुछ इलाकों में भी काफी लोकप्रिय है। आसान भाषा में समझें तो यह पूरे गेहूं के आटे से बना एक आटा बॉल आकार का होता है जिसमें बेसन, दालों को भरा जाता है।

Read More

लिट्टी चोखा का सैकड़ों सालों के इतिहास | History of hundred years of Litti Chokha

लिट्टी के बारे में ऐसा माना जाता है कि इसे सबसे पहले मगध साम्राज्य में बनाया गया था।
तभी से मगध के दरबार और उसके आसपास के स्थानों में लिट्टी एक स्पष्ट मुख्य भोजन बन गया था।

लिट्टी चोखा तांतिया टोपे और रानी लक्ष्मी बाई के समय में भी काफी प्रमुखता रखती थी।
इतिहास से पता चलता है कि ये युद्ध के समय में भारत के वीर क्रांतिकारियों के महत्वपूर्ण भोजन बन गई थी।

इसके मुख्य कारण ये थे की इसमें बहुत ही कम पानी की आवश्यकता होती थी
और इसे बिना किसी बर्तन के इसे बेक किया जा सकता था। इसके कारण इसे तैयार करना बाकी खानों से आसान हो जाता था।

उस कठिन समय में इसकी लोकप्रियता का एक और कारण यह भी था कि यह दो से तीन दिनों तक ताजा रह सकता था।
और इसके वजह से क्रांतिकारी इसका सेवन कर अपना समय अच्छे से गुजरते थे।

क्या खास है बिहारी Litti Chokha में? Bihar Masti!

इसकी खास बात यह है कि यह जड़ी-बूटियों और मसालों के साथ मिलाकर
और फिर कोयले या लकड़ी पर भुना जाता है फिर इसे देसी घी में डालकर सेवन किया जाता है।

Litti Chokha अक्सर तेल में छाँके हुए पूरी तरह से अलग कचौड़ी के साथ कंफ्यूजन क्रिएट करता है,
क्योंकि उसे भी लिट्टी या कचौड़ी कहते हैं।

लोग डाल बाटी नामक एक डिश के साथ भ्रमित होते हैं परंतु, लिट्टी चोखा स्वाद,
बनावट और तैयारी के मामले में एक पूरी तरह से एक अलग व्यंजन है।

अक्सर कोयले में भुने इस लिट्टी इसे दही, बैगन का भरता,
आलू का भरता और पापड़ के साथ खाया जा सकता है।

दरअसल पारंपरिक तौर पर लिट्टी को पारंपरिक लकड़ी या कोयला की आग पर पकाया जाता है,
परंतु आधुनिक समय में एक नया तला हुआ संस्करण विकसित किया गया है।
पर आज भी आग पे भुने हुए लिट्टी की तो बात ही अलग है।

लिट्टी के बेहतरीन स्वाद के लिए उपयोग में लायी जाने वाली जड़ी-बूटियों और मसालों में प्याज, लहसुन, अदरक, धनिया पत्ती, नीबू का रस, अजवायन, कलौंजी और नमक शामिल हैं।

अगर किसी को मसाले का स्वाद बढ़ाने की इच्छा हो तो इसके लिए स्वादिष्ट अचार का भी उपयोग किया जा सकता है।
पश्चिमी बिहार और पूर्वी उत्तर प्रदेश में लिट्टी को मुर्ग कोरमा (मलाई और दही में पका चिकन करी) या चोखा (भुना हुआ या मैश किया हुआ बैंगन, टमाटर और आलू की सब्जी) के साथ परोसा जाता है।

Litti Chokha की लोकप्रियता: Bihar Masti

विश्व भर में देखें तो लिट्टी और चोखा न केवल राष्ट्रीय स्तर पर प्रसिद्ध है बल्कि इसे विदेशों जैसे मॉरीशस, फिजी, सूरीनाम, यूके आदि में भी खाया जाता है और काफी पसंद किया जाता है।

दरअसल जहां भी बिहार, झारखंड और पूर्वी उत्तर प्रदेश के लोग पहुँचे,
वे अपने व्यंजन अपने साथ ले गए और वहाँ यह लोकप्रिय हो गया।
यही कारण है कि लिट्टी और चोखा न केवल भारत में बल्कि कई अन्य देशों में भी काफी फेमस होगया।

Litti Chokha की कुछ अनोखी बातें:

इस व्यंजन के वास्तविक स्वाद को महसूस करने के लिए लिट्टी को सही ढंग से पकाना और परोसना बहुत महत्वपूर्ण है।
इसमें ये महत्वपूर्ण है कि सबसे अच्छी लिट्टी को गाय के उपले की धीमी आग में पकाया जाए तो बेहतर है।

इससे लिट्टी अच्छी तरह से बेक होजाती है और अंदर की भरावन अच्छी तरह से पक कर मिल जाती है,
जिससे स्वाद काफी बेहतरीन हो जाता है।

लिट्टी बनाने के लिए सूखे सत्तू को तीखा बनाने लिए कटा हुआ लहसुन और अदरक और कुछ भारतीय सूखे मसालों के साथ मिलाया जाता है।

लिट्टी बेक होने के बाद इसे टुकड़ों में तोड़ दिया जाता है, और इसके चारों ओर गर्म घी डाला जाता है।
इसे नींबू और सिरके में भिगोए हुए कच्चे प्याज, चोखा (मसालेदार मसले हुए आलू) और चिकन/मांस की ग्रेवी के साथ परोसा जाता है।

लिट्टी चोखा के स्वास्थ्य संबंधित फायदे:

बिहार का ये खास पारंपरिक रेसिपी, लिट्टी चोखा एक स्वादिष्ट रेसिपी है जिसे आपके लंच या डिनर के मेन्यू में भी शामिल कर सकते हैं।

लिट्टी स्वास्थ्य के लिए काफी लाभदायक है क्योंकि इस में अजवाइन और कलौंजी जैसे मसालों के साथ सत्तू भी मौजूद है।

लिट्टी और चोखा दोनों अपने आप में स्वस्थ संयोजन है क्योंकि इसमें इसमें तेल का प्रयोग बहुत कम किया जाता है।
दोनों को या तो बेक किया जाता है या फिर भुना जाता है।

हालांकि देसी घी इसकी कैलोरी को बढ़ाता है परंतु ये आप पर निर्भर करता है कि इसका सेवन घी के साथ करेंगे या नहीं।

अब इसके अलावा, शुद्ध देसी घी आपके रिफाइंड तेलों के बनिस्बत स्वास्थ्य के लिए काफी लाभदायक है।
घी से स्वाद में अनोखापन आता है जो आपको कहीं नहीं मिल सकेगा।

लिट्टी को बनाने के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले सत्तू पाउडर में अद्भुत शीतलन गुण होते हैं
और यह आपको पूरे दिन ऊर्जावान रखने में सक्षम है।

लिट्टी के साथ सेवन करने के लिए चोखा को ग्रिल्ड बैंगन से बनाया जाता है जो आहार फाइबर, विटामिन, मैंगनीज, फोलेट और फाइटोन्यूट्रिएंट्स जैसे नासुनिन और क्लोरोजेनिक एसिड का एक शानदार स्रोत है जो एंटीऑक्सिडेंट के रूप में आपके लिए बेहद मुफीद है।

चोखा से मिलने वाले एंटीऑक्सीडेंट आपको बीमारियों से बचाता है और आपके पेट के लिए भी काफी अच्छा माना जाता है। परंतु इसके सेवन सही ढंग से होना चाहिए।

बनाने का बिहारी तरीका | Litti Chokha Bihari Recipe

आप Litti Chokha की इस रेसीपी की मदद से बेहतरीन स्वाद वाले लिट्टी चोखे का आनंद ले सकते हैं।
इंटरनेट या अन्य स्रोतों पर उपलब्ध Litti Chokha Recipe में हमारी रेसिपी सबसे बेहतर होगी,
ये आप खुद अनुभव के साथ देखेंगे।

बनाने के लिए पारंपरिक रेसीपी सबसे स्वादिष्ट और पौष्टिक होती है।
जैसे कि आप जानते हैं कि भारत के हर प्रदेश की अपनी अलग अलग रेसिपी है, जिन्हे वहां के लोगों के स्वाद के मुताबिक तैयार किया जाता है।
ऐसी ही एक पारंपरिक रेसिपी लिट्टी चोखा की भी है, जो बिहार में बहुत लोकप्रिय है।

लिट्टी का आटा बनाने की सामग्री :

  • 1½ कप गेहूं का आटा
  • ¼ टी स्पून बेकिंग पाउडर
  • ¼ टी स्पून अजवायन
  • ½ टी स्पून नमक
  • 2 टेबल स्पून घी
  • पानी, गूंधने के लिए

लिट्टी के भरावन को बनाने की सामग्री:

  • 1 कप सत्तू / भुना हुआ बेसन
  • 2 टेबल स्पून धनिया, बारीक कटा हुआ
  • 1 मिर्च, बारीक कटी हुई
  • अदरक लहसुन का पेस्ट ½ टी स्पून
  • ½ टी स्पून जीरा
  • ½ टी स्पून कलौंजी
  • ¼ टी स्पून अजवायन
  • ¼ टी स्पून नमक
  • 1 टी स्पून नींबू का रस
  • 2 टेबल स्पून सरसों का तेल

टमाटर वाला चोखा बनाने की सामग्री:

  • 3 टमाटर
  • 1 मिर्च, बारीक कटी हुई
  • 2 टुकड़े लहसुन, बारीक कटा हुआ
  • 1 इंच अदरक, बारीक कटी हुई
  • 2 टेबल स्पून प्याज, बारीक कटा हुआ
  • 2 टेबल स्पून धनिया, बारीक कटा हुआ
  • 1 टी स्पून नींबू का रस
  • 2 टेबल स्पून सरसों का तेल
  • ¼ टी स्पून नमक

अब लिट्टी बनाने का तरीका | Bihari Litti Chokha Recipe | लिट्टी बनाने का पूरा उल्लेख!

कैसे गूंधना है लिट्टी बनाने के लिए आटा?

एक बड़ी साइज की कटोरी में 1½ कप गेहूं का आटा लेना है
चाय की चम्मच से ¼ चम्मच बेकिंग पाउडर,
¼ चम्मच अजवाईन,
½ चम्मच नमक और
2 चम्मच घी ले लें।

  • इन सारी सामग्रियों को काफी अच्छे से मिलाएं, ताकि सब एक दूसरे में मिल जाये।
  • थोड़ा नर्म आटा हो तो लिट्टी अच्छी बनेगी, उसी अनुसार पानी डालकर आटे को गूंधें।
  • अब उसमें ½ चम्मच तेल से आटे को चिकना करके तकरीबन 20 मिनट के लिए छोड़ दें।

लिट्टी का भरावन बनाने का तरीका

एक बड़े कटोरे में 1 कप सत्तू का आटा लेना है, या आप चाहें तो उसकी जगह 1 कप बेसन भी ले सकते हैं।
अब इसके लिए सत्तू या आते में निम्न सामग्रियों को लिखित तरीके पर मिलाएं।

सामग्रियों में:

  • 2 टेबलस्पून धनिया,
  • 1 मिर्च,
  • ½ टीस्पून अदरक लहसुन का पेस्ट,
  • ½ टीस्पून जीरा, टीस्पून कलौंजी,
  • ¼ टीस्पून अजवायन,
  • ¼ टीस्पून नमक और
  • 1 टीस्पून नींबू का रस भी मिलाएं।
  • 2 टेबलस्पून सरसों का तेल लेकर अच्छी तरह से मिलाएं।

ध्यान रहे कि सत्तू के इस भरावन को अच्छा बनाने के लिए इसे ना ज्यादा सूखा और ना ज्यादा गीला होना चाहिए।

अब सबसे महत्वपूर्ण, भरावन को लिट्टी में डालने का सबसे अच्छा तरीका

  • आटे को 20 मिनट तक रखे रहने के बाद उसे हलके से गूंधें।
  • एक छोटे गेंद बराबर आटे को निकाल लें।
  • हाथ से दबाकर आटे से एक कप बनाएं।
  • एक छोटे गेंद बराबर सत्तू के भरावन को आटे के बीच में रखें।
  • मिश्रण को आटे के अंदर अच्छे से बंद कर दें, यह ध्यान रखें कि मिश्रण बाहर ना गिरे।
  • अतिरिक्त आटा निकालकर अच्छे से गोल करें।

Litti बनाने का आधुनिक तरीका

  • तेल से गरम किये हुए एप्पे पैन पर लिट्टी रखें। या फिर ओवन में 180 डिग्री पर 45 मिनट के लिए बीच बीच में पलट कर पकाएं।
  • धीमे आंच पर 10 मिनट के लिए ढककर पकाएं।
  • पलटकर दोनों तरफ करीब 30 मिनट के लिए पकाएं।
  • पकाना जारी रखें जबतक लिट्टी हर तरफ से सुनहरा भूरा ना हो जाए और अंदर से ना पक जाए।
  • अंत में, चोखा और घी के साथ परोसे जाने के लिए लिट्टी तैयार है।

Litti बनाने का देसी तरीका

  • लिट्टी को दहकते हुए कोयले रे 4 इंच ऊपर एक लोहे की जाली पर रखें।
  • 20-25 मिंट तक उसे पकाएं।
  • समय समय पर पलट कर देखें, कोई हिस्सा जल ना जाये।

modi ji litti chokha

Litti Chokha Recipe में महत्वपूर्ण टमाटर चोखा का तरीका

  • पहले एक ब्रश या हाथ से 3 टमाटरों पर तमध्यम आंच पर टमाटरों को बीच में सीधा आंच के ऊपर रखकर भूनें।
  • आग के ऊपर रखकर टमाटरों को पूरी तरह से काला होने तक भूनें।
  • अब टमाटरों को पूरी तरह से ठंडा होने दें, फिर टमाटर के छिलके को उतार दें।
  • भुने हुए टमाटरों को अब अच्छी तरह से मसल दें।

अब उसमें निम्न सामग्रियों को मिलाएं:

  • 1 मिर्च,
  • 2 लहसुन,
  • 1 इंच अदरक,
  • 2 टेबलस्पून प्याज,
  • 2 टेबलस्पून धनिया,
  • 1 टीस्पून नींबू का रस,
  • 2 टेबलस्पून सरसों का तेल और
  • ¼ टीस्पून नमक।

अब आपकी लिट्टी के साथ परोसे जाने के लिए आपका टमाटर का चोखा तैयार है

प्रधानमंत्री मोदी ने भी खाया लिट्टी चोखा:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी फरवरी 2020 को दिल्ली के राजपथ पर हुनर हाट पहुँचे,
जहाँ उन्होंने न सिर्फ कई कलाकारों के साथ मुलाकात की बल्कि वहां पर उन्होंने लिट्टी-चोखा भी खाया
और कुल्हड़ की चाय की भी चुस्की ली।

हुनर हाट का आयोजन 2020 में अल्पसंख्यक मंत्रालय ने किया।
प्रधानमंत्री मोदी ने अपने कैबिनेट की इम्पोर्टेन्ट बैठक के बाद अचानक हुनर हाट पहुंचकर सबको चौंका दिया।
लिट्टी चोखा मोदी ने काफी पसंद किया और सोशल मीडिया पर तस्वीरों को भी अपलोड किया।

आमिर खान ने भी पटना में लिट्टी चोखा खाया । Aamir Khan ate Litti Chokha in Patna

amir khan litti chokha

दिसंबर 2014 में फिल्म ‘पीके’ के प्रचार के लिए आए बॉलीवुड स्टार आमिर खान ने पटना शहर स्थित संजय गांधी जैविक उद्यान के सामने एक ढाबे पहुंचकर एक बार फिर बिहारी व्यंजन लिट्टी-चोखा का भरपूर आनंद लिया।

संजय गांधी जैविक उद्यान (Patna Zoo) के गेट नंबर 1 के सामने राज स्वीट्स (Raj Sweets) में आमिर ने बिहारी लिट्टी-चोखा खाया।

उन्होंने बताया कि पिछली बार जब उन्होंने लिट्टी चोखा खाया था तो ये निर्णय लिया था कि जब भी पटना जाएंगे तो खाएंगे ज़रूर।

बिहार के अन्य 26 प्रसिद्ध व्यंजन | Other 26 Bihari Famous Food

बिहारी व्यंजनों की सूची काफी बड़ी है। Bihari Food Recipe के लिए आप निम्न प्रसिद्ध भोजनों में से ट्राय कर सकते हैं –

  1. नैवेद्यम (Naivedyam)
  2. चन्द्रकला / पेडकिया (Chandrakala / Pedakiya)
  3. चना घुघनी (Chana Ghughni)
  4. बगिया (Bagia)
  5. भक्का (Bhakka)
  6. खाजा (Khaja)
  7. चिकन और लिट्टी फ्राई (Chicken and Litti Fry)
  8. केसर पेड़ा (Kesar Peda)
  9. लौंग लतिका / लौंग लत्ता (Long Latika / Long Latta)
  10. मटन कबाब और रेशमी कबाब (Mutton Kebab and Reshmi Kebab)
  11. दाल पेठा (Dal Petha)
  12. खजुरिया / खजूरी / ठेकुआ (Khajuria/Khajuri/Thekua)
  13. मालपुआ (Malpua)
  14. कढ़ी बड़ी (Kadhi Badi)
  15. रसिया (Rasia)
  16. पनटुआ / काला जामुन (Pantua/Kala Jamun)
  17. खुरमा / शकरपाला और लखतो (Khurma / Shakarpala And Laktho)
  18. बालूशाही (Balushahi)
  19. परवल की मिठाई (Parwal ki Mithai)
  20. गुड़ अनरसा (Gur Anarsa)
  21. लाई / लाड़ू (Laai / Laaru)
  22. तिलकुट (Tilkut)
  23. पूरी सब्ज़ी (Puri Sabzi)
  24. सत्तू शर्बत (Sattu Sharbat)
  25. चना चूर (Chana Choor)
  26. झाल मुढ़ी (Jhaal Murhi)

Read More About Bihar Masti Here~

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *