‘हां मैं बेटों के साथ मिलकर देखती हूं पो’र्न फिल्में’, इस पॉपस्टार के अजीब से खुलासे के बाद मचा हंगामा।

  • Whatsapp

इंडोनेशिया में इन दिनों पॉपस्टार वाहु सेतयानिंग बुडि का नाम विवादों में है। हाल ही में उन्होंने अपने बच्चों के साथ एडल्ट फिल्में यानि पोर्न देखने का दावा किया था। जिसके बाद उनका वीडियो तेजी से वायरल हुआ। सोशल मीडिया पर ज्यादातर लोग उनका विरोध कर रहे हैं। साथ ही उनके इस काम को संस्कृति के खिलाफ बता रहे, लेकिन बहुत से लोग ऐसे भी हैं जिनको पॉपस्टार का ये काम पसंद आया।

इंडोनेशिया की बेहद लोकप्रिय पॉपस्टार

49 वर्षीय वाहु सेतयानिंग बुडि (Wahyu Setyaning Budi) को इंडोनेशिया में यूनी सारा के नाम से भी जाना जाता है, जिनके कई गाने सुपरहिट हैं।

हाल ही में उन्होंने यूट्यूबर वेन्ना मेलिंडा को एक इंटरव्यू दिया। जिसमें बच्चों पर पोर्न के प्रभाव के बारे में चर्चा हुई।

बच्चे पो’र्न ना देखें, ये असंभव है

इस दौरान सारा ने कहा कि मौजूदा वक्त में बच्चे पोर्न ना देखें, ये बात असंभव है। अगर कभी माता-पिता बच्चों को पोर्न देखते हुए पकड़ लें, तो उन्हें वो बात छिपा लेनी चाहिए।

सारा के मुताबिक उनके बच्चे खुले विचार वाले हैं। सभी के बच्चे पोर्न देखते हैं, चाहे वो एनिमेटेड हों या फिर आज कल के ट्रेंड वाले।

खुद भी साथ में मिलकर देखती है पो’र्न

वो खुद अपने बच्चों को पोर्न देखने की अनुमति देती हैं। कई बार उन्होंने बच्चों को सेक्स एजुकेशन के बारे में बताने के लिए खुद उनके साथ पोर्न देखा।

उनके मुताबिक ये बहुत बड़ा कदम था, ऐसे में बहुत से लोग इसके बारे में तो सोच भी नहीं सकते हैं।

उनका ये बयान सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हुआ। जिस पर अलग-अलग तरीके की प्रतिक्रियाएं सामने आ रही हैं।

एक यूजर ने इस पर टिप्पणी करते हुए कहा कि प्लीज ऐसी मां मत बनिए। बच्चों को सेक्स एजुकेशन के बारे में बताने के लिए और भी तरीके हैं।

आप बच्चों के साथ में ज़रूर देखें पो’र्न

ये जरूरी नहीं कि आप उनके साथ बैठकर पोर्न देखें। एक दूसरे यूजर ने लिखा कि यौन शिक्षा का मतलब ये नहीं कि वो सिर्फ पोर्न फिल्मों पर आधारित हो, आप चाहें तो वैज्ञानिक तत्थों के आधार पर उन्हें शिक्षित कर सकते हैं।

वहीं दूसरी ओर इंडोनेशिया के एक संस्थान के जाने-माने बाल और किशोर शिक्षा विशेषज्ञ एगस्ट्रिड पीटर ने सारा की सराहना की है।

उन्होंने कहा कि ये सही है। जब हम बच्चों को पोर्न देखते हुए पकड़ते हैं, तो हमें उन पर गुस्सा नहीं करना चाहिए, क्योंकि आप उनसे नाराज हो गए तो वो छिपकर इसे करेंगे।

उनके साथ पो’र्न बैठकर देखना जरूरी नहीं है, माता-पिता चाहें तो बैठकर बच्चों से इस बारे में बात कर सकते हैं।

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *